Nishitha Degree College
हिंद

हिंदी के बारे में

हिंदी भाषा का महत्व

हिंदी भाषा का महत्व सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में काफी अधिक हैं I और हिंदी भाषा को " देवनागरी" नामक एक लिपि में लिखा जाता हैं I केंद्रीय स्तर पर भारत में दूसरी आधिकारिक भाषा अंग्रेजी हैं I हिंदी संवैदिक रूप से भारत का राजभाषा और भारत की सबसे अधिक बोली अरु समझी जाने वाली भाषा हैं I हिंदी भारत की राष्ट्र भाषा नहीं हैं, क्योंकि भारत की संविधान में किसी भी भाषा को ऐसा दर्जा नहीं दिया गया था I चीनी (चैना) के बाद यह विश्व में सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा हैं I

हिंदी भाषा को सम्पूर्ण भारत के विविध राष्ट्रों में बोली जाती हैं ! भारत और अन्य देशों में भी हिंदी बोलते हैं, पढ़ते हैं और लिखते हैं i हिंदी सिर्फ एक भाषा ही नहीं बल्कि हिंदी के द्वारा भारत के लोग एक दूसरे से काफी अच्छी तरह जुड़ (मिल) सकते हैं और देश की तरक्की को एक नई ऊंचाइयों तक ले जा सकते हैं I लोगों का ऐसा मानना हैं की हिंदी जाने बिना भी बहुत सारा काम हो सकता हैं, लेकिन भारत के लोग कभी भी अंग्रेजी को अच्छी तरह समझ नहीं सकते i

हिंदी का विकास भारत में सदियों पहले हो चूका था I भारत के लोग बचपन से ही हिंदी भाषा का इस्तेमाल करते हैं I हिंदी बहुत ही सरल भाषा हैं, इसलिए इस (हिंदी) भाषा को आसानी से सीख सकते हैं I भारत में हिंदी भाषा के बिना सारा (पूरा) काम नहीं हो सकता हैं, क्योंकि ७० से ८० प्रतिशत लोग अंग्रेजी को अच्छी तरह नहीं जानते हैं I बहुत सारे लोग बिना स्कूल गए भी बहुत अच्छी हिंदी बोल लेते हैं I

तेलंगाना राष्ट्र, जिला निज़ामाबाद में १९९४ में "निशिता डिग्री कॉलेज" की स्थापना हुई I इस कॉलेज में बी.एस.सी(एम् एस सी एस), बी.एस सी (एम् पि सीएस), बी.एससी(एम् इ सीएस),बी.कॉम और बीबीए कोर्स हैं I

हर साल निशिता डिग्री कॉलेज में इन कोर्सेस के बच्चे १५० से २०० तक बच्चे दूसरी भाषा हिंदी विषय को चुनते हैं I और अच्छी तरह अध्ययन करते हैं I

हर साल १४ सितम्बर को इस कॉलेज में हिंदी दिवस मनाते हैं I